एक झलक जिसने भी पायी आपकी

दोस्तों पेश करता हम एक ताज़ी ग़ज़ल और तस्वीर,
आपके प्रतिभाव की प्रतीक्षा सह….

एक झलक जिसने भी पायी आपकी
जिंन्दगी  कैसे जीये आरामकी
जो कला पहुचे नही उनके कदम
खाख है ऐसी कला बस नामकी 


लोग कहते है मुहब्बत है हमें
है बला बर्बाद, है क्या कामकी 

रातका तारा तू सपना भोर का
तू सुबह मेरी शफक तू शामकी 

मेंरी नझरो से उन्हें देखे कोई
क्या पड़े उनको जरूरत जामकी 

ख़ुदकुशी हो गई ख़ुशी ना पाई तो,
बात हमने ख़ास की ना आम की

प्यार से पायी ये हमने ज़िन्दगी
प्यारने ही ज़िन्दगी तम्माम की 

रात तकती राह, मिलने आयेगा
ज़िन्दगी ‘दिलीप’ तेरे नाम की 

-दिलीप गज्जर 
Advertisements

19 thoughts on “एक झलक जिसने भी पायी आपकी

  1. रचना अच्छी है.बेहतर हो सकती है
    कुछ इस तरह

    जिससे मेरी हर सुबह हंसी,वो आफ़ताब है तू .
    मेरे सोख से रात का,महताब है तू.
    जिसके खिलने सेदिल का गुलशन महके,
    वो गुलाब है तू.
    मेरे रूप पे जो छाया,वो सबाब है तू.
    हर पल जो सजते हैं आँखों में,वो रंगीन ख्वाब है तू.

  2. આદરણીય દિલીપભાઈ આપશ્રી ની આ રચના ખુબજ ગમી.આ જ જીદગી ની કમાલ છે પ્યાર સે પાઈ જીદગી પર પ્યાર ને હી તમામ કી …..શુભેછા સહ.

  3. एक सुंदर रचना! आपकी रचना के अव्वल तीन मिस्रे वजन-बहर में है.(गागागा-गागागा-गागा-गालगा). लय भी मौजूद है रदीफ काफियह खूब निभाया है..काश पुरी गझल वजन पर होती.अभी आपने चार चंद लगा दियें है.कुछ सूरज भी लग जाते.तम्माम की जगह तमाम ही सही लफ्ज है.
    क्षमायाचना कि साथ.
    ——मुहम्मदअली वफा

  4. વાહ દિલિપભાઇ,
    ખુબજ સુન્દર રચના… ખુબ ખુબ આભાર આપના બ્લોગ પર મુક્વા..સાથે ખુબજ સુન્દર ગાયકી… ખરેખર મજા આવી ગઇ..!

  5. प्यार से पायी ये हमने ज़िन्दगी
    प्यारने ही ज़िन्दगी तम्माम की
    ………………………..
    શ્રી દિલીપભાઈ
    પ્રેમભરી આ ગઝલમાં આગવી છાંટ છે. એક આલ્બમમાં શોભી તેવી
    ઉત્તમ કૃતિ છે અને જેમ જેમ માણીએ તેમ વાહ! બોલી જવાય છે.
    ખૂબ ખૂબ અભિનંદન.

    રમેશ પટેલ(આકાશદીપ)

  6. પિંગબેક: » एक झलक जिसने भी पायी आपकी » GujaratiLinks.com

પ્રતિસાદ આપો

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / બદલો )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / બદલો )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / બદલો )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / બદલો )

Connecting to %s